Menu

 THE FIT HEART clinic 

Cardiac Superspeciality Centre

header photo

Blog Search

Comments

Angioplasty (एंजियोप्लास्टी)

आदरणीय डॉ.मुंजेवार सर,
मेरे पिताजी का आज एंजियोग्राफी हुआ है और डॉक्टर ने हमें बताया  है कि उनके दिल की रक्त वाहिनियों में से एक में रुकावट है और वह पतली हो गई है। डॉक्टर ने हमें एंजियोप्लास्टी की सलाह दी है, जिसे जल्द से जल्द करवाने को कहा है। क्या आप
मुझे 'एंजियोप्लास्टी ' की इस प्रक्रिया के बारे में समझा सकते हैं?

(उमा त्रिपाठी, नई दिल्ली )

माननीय
उमा जी

  • ह्रदय/दिल की रक्तवाहिनियों / नसों में अगर कोई अवरोध (ब्लॉकेज) एंजिओग्राफी में मिलता है, तो उसे खोलने के लिए की जाने वाली प्रक्रिया को एंजिओप्लास्टी कहते है.
  • इसमें कमर अथवा कलाई की रक्त वाहिनी या नस में, सुन्न करने का इंजेक्शन देने के बाद, किये गए एक सुराख़/छेद के ज़रिये एक लम्बी नली (कैथेटर) को दिल की रक्त वाहिनियों तक पहुँचाया जाता है.
  • फिर इस कैथेटर में से एक तार को उस अवरोध के पार पहुँचाया जाता है.
  • इस तार के सहारे एक छोटा गुब्बारा (बलून) उस अवरोध तक पहुँचाया जाता है.
  • उसके बाद इस बलून को फुलाया जाता है ताकि अवरोध खुल जाये.
  • आखरी में इस अवरोध वाली जगह पर एक स्टेंट (जो कि एक स्प्रिंग की तरह दिखता है) बिठाया जाता है ताकि वो अवरोध वाली जगह फिर से बंद ना हो जाये.
  • इस प्रक्रिया में लगभग १-२ घंटे  लगते हैं. पर कभी-कभी इससे ज़्यादा समय भी लग सकता है.
  • पूरी प्रक्रिया के दौरान रोगी पूरी तरह से होश में रहता हैं और बातचीत भी कर सकता है. (कृपया नीचे दिखाया गया वीडियो देखें)

उम्मीद है आपको मेरे उत्तर से सही दिशा मिलेगी।

 

 

                       


 

Go Back

Comment